Best motivation (in hindi)



Best motivation

Best motivation

जिंदगी की लेखा - जोखा

  • जिंदगी की लेखा जोखा में कर्म की गति भूल जाते हैं।
  • जब कर्म को सामान ना हो तो गंदी आदतों में घुल मिल जाते हैं।
  •  जिंदगी एक क्षण को कुछ और दूसरे क्षण में कुछ और हो जाती है।
  •  जो हरदम खुशी की तलाश में भागे अनसुलझे गेम को साथ पाती है ।
  • लगन प्रयास से गेम सुलझ जाए तो थोड़ी खुशी मिल जाती है ।
  • दो मिनट की खुशी तीसरे मिनट में दूसरी अनसुलझे गेम दे जाती है।
  •  जिंदगी की अनसुलझे गेम को खुद वक्त सुलझाती जाती है ।
  • अच्छे कर्म की हवस शुद्ध मन लहराती है ।
🧚🏻‍♀️🧚🏻‍♀️🧚🏻‍♀️🧚🏻‍♀️🧚🏻‍♀️🧚🏻‍♀️🧚🏻‍♀️🧚🏻‍♀️🧚🏻‍♀️🧚🏻‍♀️🧚🏻‍♀️🧚🏻‍♀️🧚🏻‍♀️🧚🏻‍♀️🧚🏻‍♀️🧚🏻‍♀️
  • खुद की कर्म ही सही गलत का लेख लिखती है।
  •  सोए हुए मन को मार कर जगाती है ।
  • लेखा-जोखा में फंसे जिंदगी की तिनका।
  •  जग मनोहर में मोहित हो जाती है।
  •  अपनी मंजिल की राह छोड़ वन में भटक जाती ।
  •  कोई हमेशा रो नही सकती।
  • न कोई हमेशा हंस नहीं सकती है।
  •  अति की मार छोटी सी जिंदगी विचलित रह सकती है ।
  •  जिंदगी की भूल भुलैया में सबको सुलझाना पड़ता है।
  •  जो कभी हार ना माने वही अपनी जीवन लड़ता है ।
  • एक गेम के दो खिलाड़ी दोनों जीतना चाहता है।
  •  जो हर मुश्किल को सामना आसान बनाए वही मंजिल या विनर कहलाता है ।
  • जिंदगी की लेखा जोखा में सब सहना पड़ता है ।
  • दुश्मनों को गले लगाकर उसके साथ ही रहना पड़ता है।

और भी कविता, moral स्टोरीज, लव सायरी आदि
पाने के लिए हमारे ब्लॉग में सर्च करें।
Sahupremlata1blogspot.com

0 Comments:

कवित्री प्रेमलता ब्लॉग एक कविता का ब्लॉग है जिसमे कविता, शायरी, poem, study guide से संबंधित पोस्ट मिलेंगे
और अधिक जानकारी के लिए हमसे जुड़े रहे।
Email id
Sahupremlata191@gmail.com